vrsamachar
RANDOM

आर्यन खान पर हुई 25 करोड़ की डील कैसे कसा गया ड्रग्स केस का शिकंजा, जानें समीर वानखेड़े के खेल की पूरी कहानी

मुंबई. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर रहे समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) फिर विवादों में है. आर्यन खान ड्रग्स केस में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से दायर की गई एफआईआर में कई खुलासे हुए हैं. एफआईआर से पता चला है कि ड्रग्स मामले में आर्यन खान के परिवार से 25 करोड़ रुपये वसूलने …

आर्यन खान पर हुई 25 करोड़ की डील कैसे कसा गया ड्रग्स केस का शिकंजा, जानें समीर वानखेड़े के खेल की पूरी कहानी
X

मुंबई. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर रहे समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) फिर विवादों में है. आर्यन खान ड्रग्स केस में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से दायर की गई एफआईआर में कई खुलासे हुए हैं. एफआईआर से पता चला है कि ड्रग्स मामले में आर्यन खान के परिवार से 25 करोड़ रुपये वसूलने की प्लानिंग की जा रही थी. आखिर कैसे बॉलीवुड के किंग खान सुपर स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को ड्रग्स मामले में फंसाने की पूरी साजिश को अंजाम दिया गया?

न्यूज 18 ने उस क्रूज की इनसाइड स्टोरी की पूरी पड़ताल की है जहां से सुपर स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB ने हिरासत में लिया था. दरअसल डिशुजा को LSD ड्रग्स के दो मामले में NCB की उसी टीम ने दबोचा था, जिसको लीड समीर बानखेड़े कर रहे थे. उस दौरान समीर बानखेड़े एंड NCB एक्सटाशन कंपनी ने 10 लाख रुपए की रिश्वत ली. ये पैसा आरोपों के मुताबिक VV सिंह और खुद समीर बानखेड़े ने लिए जिसके बाद डिशुजा को अपने गैंग में शामिल कर लिया गया. फिर NCB टीम का डिशुजा इन्फॉर्मर बन गया. वह NCB के समीर बानखेड़े के लिए कलेक्शन एजेंट के तौर पर काम करने लगा. फर्जी ड्रग्स प्लांट में भी NCB की टीम डिशुजा का इस्तेमाल करने लगी.

क्या है गुजरात का पाटिल और बानखेड़े डिशुजा कनेक्शन
गुजरात का पाटिल नाम के एक किरदार ने समीर बानखेड़े को बताया कि क्रूज पर कुछ बड़ी पार्टी आएगी, जिनको टारगेट किया जा सकता है. वहीं एक अन्य किरदार ने बताया की क्रूज पर ड्रग्स पार्टी में कई बड़े लोग शामिल हो रहे हैं. अब तक आर्यन खान पिक्चर में नहीं था न उसके आने की जानकारी NCB को थी. डिशुजा और पाटिल एक दूसरे को जानते थे जब NCB ने प्लान किया की क्रूज पर ड्र्ग्स रेडस करना है. डिशुजा ने बानखेड़े और VV सिंह से दो प्राइवेट पर्सन भानुशाली और किरण गोसावी की मुलाकात कराई.

आर्यन को क्रूज पर ही दबोच लिया गया था
NCB ने भानुशाली और किरण गोसावी को टास्क दिया कि वह क्रूज पर बड़ा कैच पकड़े. NCB ने अपने टारगेट संदिग्धों मे 27 लोगों की लिस्ट तैयार की, लेकिन जैसे ही समीर बानखेड़े को एक फोन कॉल आया और जानकारी मिली की क्रूज पर आर्यन खान अपने दोस्तों के साथ आ रहा है ये लिस्ट में केवल 10 नाम शामिल किए गए. जैसे ही आर्यन क्रूज पर आया और उसे पकड़ लिया गया. उसका फोन NCB ने अपने कब्जे में ले लिया, ताकि वो अपने घर फोन न कर पाए.

आर्यन के पास नहीं मिली थी ड्रग्स
आर्यन खान के साथ उसके चार अन्य दोस्त भी क्रूज पर थे पर केवल अरबाज के पास से चरस बरामद हुई. उसे पकड़ लिया गया. ड्रग्स चैट्स तो आर्यन के बाकी तीन दोस्तों के पास से भी बरामद हुई पर उन्हें छोड़ कर केवल आर्यन खान को टारगेट किया गया. अरबाज़ ने अपने पहले बयान में साफ कहा भी था कि आर्यन के पास ड्रग्स नहीं थी. न उसने ड्र्ग्स ली थी और हमें भी मना किया था. इसके बाद आर्यन खान के परिवार से बसूली की कहानी शुरू हो गई.

आर्यन खान के सामने यह दिखाया गया कि किरण गोसावी NCB का अधिकारी है. वह आर्यन को पहले घसीटते हुए NCB दफ्तर ले गया, जहां मीडिया में भी वो पिक्चर कैद हुई फिर उसके साथ एक सेल्फी ली गई. आर्यन का एक ऑडियो भी बनवाया गया. यहीं आर्यन का वीडियो भी रिकॉर्ड हो गया पापा में NCB कस्टडी में हु.. Plz Help Me!

शाहरुख की मैनेजर पूजा डडलानी से हुई करोड़ों की डील
समीर बानखेड़े एंड कंपनी ने अब प्लान किया की आर्यन गोसावी की सेल्फी और ऑडिओ कैसे पूजा डडलानी यानी शाहरुख खान की मैनेजर तक पहुंचाई जाए, ताकि डील शुरू की जाए. समीर बानखेड़े एंड कंपनी ने एक प्रभावशाली आदमी के जरिये पूजा डडलानी का नंबर जुगाड़ किया. उसे आर्यन की सेल्फी और उसका ऑडियो मैसेज भेज दिया गया. कहा गया की आर्यन खान ने क्रूज पर ड्रग्स का सेवन किया हुआ है. उसके फोन से ड्रग्स चैट्स मिले हैं.

तब धमकी के चलते पूजा डडलानी राजी हो जाती है. आर्यन को छोड़ने की डील में 25 करोड़ मांगे गए. उसी रात पूजा डडलानी और किरण गोसावी की मीटिंग होती है. तब 50 लाख कैश किरण गोसावी ले लेता है. पर अगली सुबह तक किरण गोसावी NCB का अधिकारी नहीं है यह पता चल जाता है. तब पुजा डडलानी को 38 लाख वापस कर दिए जाते हैं और 12 लाख यह कहते हुए पूजा डडलानी को वापस नहीं किए जाता हैं कि वो पैसा समीर बानखेड़े को पास पहुंच गया है. अब वापस नहीं हो सकता और आर्यन को तब तक गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया जाता है.

जिस वक्त आर्यन खान के साथ किरण गोसावी NCB दफ्तर में नजर आ रहा है उस वक्त के NCB दफ्तर के तमाम CCTV काम कर रहे थे. जैसे ही इस मामले में विजिलेंस जांच शुरू हुई और टीम NCB मुंबई दफ्तर पहुंची तो तमाम CCTV फूटेज के साथ छेड़छाड़ कर दी गई. DVR अलग कर दी गई. यही नही विजिलेंस जांच में आरोपों के घेरे में आए सभी आरोपियों ने NCB को अपने जो फोन जांच के लिए दिए उन्हें पूरी तरह खाली कर दिया, ताकि सबूत विजिलेंस टीम के हाथ न लगें. फोरेंसिक तरीके से सारे सबूत NCB ने वापस इक्कठा कर लिए.

विजिलेंस टीम ने अपनी जांच में करीब 2 दर्जन से ज्यादा घटना डील से जुड़े CCTV फुटेज हासिल किए. इसके अलावा जो चैट्स आरोपियों ने डिलीट कर दी थी उसे हासिल किया. कई इलेक्ट्रॉनिक गजेट्स बरामद किए गए.
Next Story
Share it