vrsamachar
ENTERTAINMENT

अब 'बावरी' ने निकाला असित मोदी पर गुस्सा:कहा- एक्टर्स को कुत्ते की तरह ट्रीट करते हैं..कोई मुंह न खोले इसलिए बॉन्ड साइन करवाते हैं

जेनिफर मिस्त्री के बाद 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' शो की एक और एक्ट्रेस मोनिका भदौरिया ने प्रोड्यूसर असित मोदी पर निशाना साधा है। शो में 'बावरी' के किरदार से फेमस हुईं मोनिका ने कहा कि जब उन्होंने 2019 में शो छोड़ा तो उनका बकाया नहीं मिला था। मोनिका ने कहा कि प्रोडक्शन हाउस ने …

अब बावरी ने निकाला असित मोदी पर गुस्सा:कहा- एक्टर्स को कुत्ते की तरह ट्रीट करते हैं..कोई मुंह न खोले इसलिए बॉन्ड साइन करवाते हैं
X

जेनिफर मिस्त्री के बाद 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' शो की एक और एक्ट्रेस मोनिका भदौरिया ने प्रोड्यूसर असित मोदी पर निशाना साधा है। शो में 'बावरी' के किरदार से फेमस हुईं मोनिका ने कहा कि जब उन्होंने 2019 में शो छोड़ा तो उनका बकाया नहीं मिला था। मोनिका ने कहा कि प्रोडक्शन हाउस ने उनकी जिंदगी नर्क जैसी कर दी थी।

मोनिका ने कहा कि उनकी मां का कैंसर का इलाज चल रहा था लेकिन संवेदना जाहिर करने के बजाय प्रोडक्शन वाले अगले दिन शूट पर बुलाते थे। मोनिका ने असित पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो आदमी अपने आप को भगवान समझता है। कोई उसके खिलाफ बात नहीं कर सकता। मोनिका ने जेनिफर पर भी तंज कसते हुए कहा कि वो भी तब जाकर बोलीं जब उनके साथ खुद गलत हुआ।

एक्टर्स को कुत्ते की तरह ट्रीट करते हैं प्रोडक्शन वाले
मोनिका ने हिंदुस्तान टाइम्स के बात करते हुए कहा, 'जब मैंने शो जॉइन किया तो महीने के सिर्फ ₹30,000 मिलते थे। उन्होंने कहा था कि 6 महीने बाद आपकी फीस बढ़ा देंगे लेकिन उन्होंने कभी ऐसा नहीं किया। वे पैसों के मामलों में बेईमानी करते हैं। वे सभी को एक कुत्ते की तरह ट्रीट करते हैं।

जब मैंने 2019 में शो छोडा तो मेरा तकरीबन 4-5 लाख रुपए तक का बकाया उन्होंने चुकता नहीं किया। उन्होंने हर एक्टर्स का पैसा रोक रखा है, चाहे वो राज अनादकट हो या गुरुचरण सिंह। ऐसा नहीं है कि प्रोड्यूसर्स के पास पैसे नहीं हैं, वे बस टॉर्चर करने के लिए लोगों के साथ ऐसा करते हैं।'मोनिका ने कहा कि प्रोडक्शन वालों ने उनकी फीस बढ़ाने की बात की थी, लेकिन फीस बढ़ाना तो दूर..उन लोगों ने बकाया तक चुकता नहीं किया।

शो में लोगों से बॉन्ड साइन कराया जाता है..मेकर्स के खिलाफ कुछ नहीं बोल सकते एक्टर्स
मोनिका ने अपनी बात रखते हुए आगे कहा, 'जो शो में काम कर रहे हैं कि वे कभी प्रोडक्शन टीम के खिलाफ नहीं बोलेंगे। उनसे एक बॉन्ड साइन कराया जाता है, जिसमें लिखा होता है कि आपको मीडिया में शो के मेकर्स के खिलाफ कुछ भी उल्टा सीधा नहीं बोलना है।

जेनिफर जी ने भी उस वक्त कुछ नहीं बोला जब कई एक्टर्स शो छोड़कर गए थे। आज उनके साथ गलत हुआ तो वो बोलीं। सबको अपनी जॉब बचानी पड़ती है।'मोनिका ने कहा है कि शो में काम करने वाले लोग मजबूर होते हैं, वे चाहकर भी अपनी परेशानी मीडिया को नहीं बता सकते।

किसी भी स्थिति में सेट पर बुलाते थे प्रोडक्शन वाले
मोनिका ने कहा, 'मेरी मां के कैंसर का इलाज चल रहा था। मैं रात भर हॉस्पिटल में रहती थी। संवेदना दिखाने की बजाय वे मुझे सुबह शूट पर बुला लेते थे। अगर मैं कहती कि मेरी मेंटल हेल्थ ठीक नहीं है बावजूद इसके मुझे शूट पर बुलाते थे। सबसे बुरी बात ये थी कि सेट पर जाने के बाद मेरा वहां काम ही नहीं होता था। मुझे एक घंटे पहले बुला लिया जाता था।'

मां के निधन के 7 ही दिन बाद सेट पर बुलाया गया
मोनिका ने आगे कहा, 'मां के निधन के बाद असित मोदी का फोन तक नहीं आया। मैं गहरे सदमें में थी। सात दिन बाद मेरे पास फोन आया और मुझे सेट पर आने को कहा गया। मैंने उनसे कहा कि मेरी हालत ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि हम आपको पैसा दे रहे हैं, हम जब चाहे तब आपको यहां बुला सकते हैं और आपको आना ही होगा। अब आपकी मम्मी को कुछ हो या जो कोई भी बात हो।

मोनिका ने 2019 में शो छोड़ा था।

मेरे पास कोई ऑप्शन नहीं था। मैं रोज सेट पर जाती थी और रोती रहती थी। वे मेरा टॉर्चर करते थे। सेट पर गुंडागर्दी करते थे। असित कहता था कि वो भगवान है। असित की ये बात ताबूत में आखिरी कील साबित हुई। मैंने कहा कि मुझे ऐसी जगह अब काम ही नहीं करना। यहां काम करने से बेहतर है कि सुसाइड कर लो। यहां जिसे देखो वो बदतमीजी से बात कर रहा है। सोहेल रहमानी वहां सबसे बदतमीज इंसान है।'

Next Story
Share it