vrsamachar
SLIDER POST

Biparjoy Updates : तबाही मचा रहा महातूफान बिपरजॉय : भारी बारिश, पेड़ गिरने से तीन लोग घायल, आधी रात तक चलेगा लैंडफॉल

अहमदाबाद। Biparjoy Latest Updates : महातूफान बिपरजॉय जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, इसका असर तेज होता दिखाई दे रहा है। चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के आज (15 जून) तबाही मचाने की आशंका के बीच 8 राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। नेवी, एयरफोर्स, सेना, एनडीआरएफ समेत तमाम सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैद हैं। 74 हजार से ज्यादा …

Biparjoy Updates : तबाही मचा रहा महातूफान बिपरजॉय : भारी बारिश, पेड़ गिरने से तीन लोग घायल, आधी रात तक चलेगा लैंडफॉल
X

अहमदाबाद। Biparjoy Latest Updates : महातूफान बिपरजॉय जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, इसका असर तेज होता दिखाई दे रहा है। चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के आज (15 जून) तबाही मचाने की आशंका के बीच 8 राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। नेवी, एयरफोर्स, सेना, एनडीआरएफ समेत तमाम सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैद हैं। 74 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

गुजरात के द्वारका जिले में पेड़ गिरने की घटनाओं में कम से कम तीन लोग घायल हो गए. जखाऊ और मांडवी कस्बों के पास कई पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए हैं. गुजरात के गृह राज्य मंत्री हर्ष सांघवी ने कहा कि कच्छ जिले में घर के निर्माण में इस्तेमाल होने वाली टिन की चादरें उड़ गईं. उन्होंने कहा कि गुजरात पुलिस, एनडीआरएफ और सेना की टीमें द्वारका के विभिन्न हिस्सों में उखड़े हुए पेड़ों और बिजली के खंभों को हटाने के लिए काम कर रही हैं.

चक्रवाती तूफान बिपरजॉय का कच्छ में लैंडफॉल शुरू हो गया है. इस दौरान 115-125 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही है। इस वक्त सौराष्ट्र के सभी इलाकों में भारी बारिश हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक मध्य रात्रि तक लैंडफॉल जारी रहेगा. इसके बाद तूफान कमजोर होकर राजस्थान की ओर मुड़ जाएगा. हालांकि, उससे पहले कच्छ, जामनगर और द्वारका में तेज हवाओं के चलते इलेक्ट्रिक पोल्स और पेड़ों के गिरने की तस्वीरें सामने आ रही है. इन इलाकों की बिजली भी काट दी गई है।

चक्रवाती तूफान बिपरजॉय के खतरे को लेकर केंद्र से लेकर राज्य सरकार तक सब अलर्ट पर हैं. गुजरात में एनडीआरएफ की 17 टीमें और एसडीआरएफ की 12 टीमें तैनात हैं. वहीं, नौसेना के 4 जहाज अभी स्टैंडबाय में रखे गए हैं. तट के पास रहने वाले 74,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. मौसम विभाग के अनुसार, गुजरात और महाराष्ट्र समेत 9 राज्यों पर महातूफान का असर है. ये 9 राज्य लक्षद्वीप, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात, असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और राजस्थान (पश्चिमी) हैं।

महातूफान का लैंडफॉल देर रात तक चलेगा, कई इलाकों की बिजली काटी IMD के अनुसार तूफान के लैंडफॉल की प्रक्रिया शाम साढ़े 6 बजे शुरू

IMD के अनुसार तूफान के लैंडफॉल की प्रक्रिया शाम साढ़े 6 बजे शुरू हुई थी, जो कि आधी रात तक चलेगी. इसके चलते गुजरात के अधिकांश स्थानों पर रुक-रुक कर बारिश हो रही है. वहीं जखाऊ पोर्ट से आगे नलिया में सबसे ज्यादा 95 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली. अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. एहतियात के तौर पर मांडवी, मुंद्रा, नलिया और लखापत की बिजली काट दी गई।

द्वारका में कई पेड़ उखड़े, होर्डिंग्स गिरे

गुजरात के द्वारका में महातूफान की वजह से कई पेड़ उखड़ गए हैं. कई होर्डिंग्स गिर गए. बिपरजॉय की वजह से जिले में तेज हवाएं चल रही हैं।

नवसारी जिले के सभी स्कूल 16 जून तक रहेंगे बंद

गुजरात के नवसारी जिले के सभी स्कूल साइक्लोन बिपरजॉय के मद्देनजर 16 जून को बंद रहेंगे.

Next Story
Share it