vrsamachar
SPECIAL STORY

हैरान कर देगी ये परंपरा: ये लोग खाते हैं कुत्ते का मांस बिल्लियां, कीड़े-मकौड़े जैसे सांप, बिच्छू इत्यादि चीजें

हैरान कर देगी ये परंपरा: ये लोग खाते हैं कुत्ते का मांस बिल्लियां, कीड़े-मकौड़े जैसे सांप, बिच्छू इत्यादि चीजें
X

आज भी हमारी दुनिया में कहीं ऐसी अजीबोगरीब चीज हैं कई ऐसी परंपराएं हैं, जिसे जानने और सुनने के बाद हम हैरान रह जाते हैं इस देश में अधिकतर लोग मांसाहारी भोजन करते हैं। अगर देखा जाए तो एशिया और यूरोप के मुल्क में ज्यादातर ऐसे लोग रहते हैं। लेकिन आज हम एक ऐसे देश के बारे में बताने वाले हैं जो पालतू कुत्ते और बिल्लियों को खाने की परंपरा चलते हैं। इतना ही नहीं यहां हर साल 40 लाख बिल्लियां खाई जाती हैं। इतना ही नहीं कुत्तों के मांस के साथ लोग डिनर करते हैं। दुनिया भर से इस पर पाबंदी लगाने की मांग की जा रही है लेकिन दिखावे के लिए कदम उठाया जाता है लेकिन होता कुछ नहीं है। आज हम बात कर रहे हैं चीन की जहां पर कोरोना महामारी को देखते हुए कुछ महीनो से चीन के सियान जिन शहर में कुत्ते और बिल्लियों का मांस खाने पर रोक लगा दी गई है।

ये भी पढ़े: इसे कहते हैं किस्मतः जिसे कूड़ा समझ कर फेंकते हैं आप, उसे बटोर कर महिला बनी करोड़पति

पालतू जानवर खाते हैं चीन के लोग

आपको बता देगी चीनी कैसा पहला शहर है जहां पर ह्यूमन सोसाइटी इंटरनेशनल के अनुसार एशिया के सबसे अधिक देशों में हर साल 3 करोड़ कुत्तों का मांस खाया जाता है। वहीं अगर अकेले चीन में देखा जाए तो चीन में हर साल एक करोड़ कुत्तों और 40 लाख बिल्लियों को जान से मार दिया जाता है इसमें ज्यादातर पालतू जानवर ही होते हैं जिन्हें चुरा कर बेचा भी जाता है और बाद में पिंजौर में रखा जाता है। आपको बता दे की कुत्तों का मांस खाने की परंपरा चीन में हजारों साल से चली आ रही है। इतना ही नहीं भले ही उन्हें अक्सर पालतू जानवर के रूप में देखा जाता है लेकिन हर साल जून में दक्षिणी चीन के लेन शहर में डॉग मीट महोत्सव भी आयोजित किया जाता है।


दक्षिण कोरिया का भी है यही हाल

आपको बता दे कि चीन के इस कार्यक्रम में जिंदा कुत्ता और बिल्लियों को विशेष रूप से खाने के लिए ही बेचा जाता है यहां पर 10000 से 15000 कुत्तों को मारकर खाया जाता है। इसके अलावा यह भी माना जाता है कि गर्मी के महीने में कुत्ते का मांस खाने से शरीर में उत्पन्न होने वाली गर्मी से भी राहत मिलती है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों के दौरान ही पशु कल्याण से जुड़ी संस्थाएं इसके विरोध में समय-समय पर प्रदर्शन भी कर रही हैं इसके कारण जानवरों के कत्ल करने पर कमी पाई गई है। आपको बता दे कि दक्षिण कोरिया में कुत्ते के मांस के व्यंजन इतने आम हो गए हैं कि उनका अपना नाम भी है यहां पर 17000 कुत्तों के फॉर्म है।

poojamishra

poojamishra

Hello friends, my name is Pooja Kumari and I am from Maharashtra. I started blogging in 2018. My website website was related to news. I am very fond of gathering information since childhood and this is also my passion. Now with the help of MoneyRed, I am preparing every news related to the business world for you in simple ways. Thank you


Next Story
Share it